शिकोहाबाद: युवक की मौत की खबर लगते ही परिवार में मचा कोहराम

-घर से कुछ ही घंटे पहले निकला था ड्यूटी को अंशुमन, पत्नी स्तब्ध

शिकोहाबाद। छुट्टी बिताने के बाद युवक अपनी स्विफ्ट डिजाइर कार को लेकर नोयडा नौकरी के लिए सोमवार सुबह घर से निकला था। उसके साथ उसका दोस्त अतिन समेत पांच लोग थे। जब उसकी कार मथुरा के महावन थाना क्षेत्र अंर्तगर्त माइलस्टोन 117 यमुना एक्सप्रेस वे पर पहुंची ही थी, कि अचानक कार का टायर फट गया। वहीं आगे जा रही एक स्लीपर कोच बस अनियंत्रित होकर डिबाइडर से टकरा गई। इसी बीच कार अनियंत्रित होकर पीछे से बस में घुस गई। जिससे कार और बस में आग लग गई। जिससे कार सवार पांच लोग जिंदा जल गये। हादसे की जानकारी होते ही बड़ी संख्या में लोग मौके पर पहुंच गए।

सूचना पर पहुंची पुलिस ने आग बुझाने के बाद लोगों को मृत अवस्था में पोस्टमार्टम के लिए मथुरा के जिला अस्पताल भेजा। इधर अंशुमन का पूरा परिवार घर पर था। जैसे ही उन्हें सूचना मिली तो पूरा परिवार स्तब्ध रह गया। अंशुमन अपने पिता की इकलौती संतान थी। उसकी एक साल पूर्व शादी हुई थी। पत्नी विशाखा ने जब यह सुना तो वह स्तब्ध रह गई। युवक की मां और पिता परिवार के अन्य लोगों के साथ मथुरा के लिए रवाना हो गये। वहीं विशाखा को ढांढंस बंधाने के लिए मोहल्ले और परिवार की अन्य महिलाएं पहुंच गई।

विशाखा का रो-रोकर बुरा हाल है। वह अपने पति की जुदाई को समझ ही नहीं पा रही थी। कुछ ही घंटे पहले उससे मिल कर ड्यूटी के लिए निकला था। मृतक अपने पिता के बुढ़ापे की इकलौती लाठी था। लेकिन बुढ़ापे में वह अपने माता-पिता के ऊपर अपनी विधवा पत्नी का बोझ छोड़ कर चला गया। अचानक हुए ह्रदय विदारक हादसे को सुन कर लोगों का उसके घर पर तांता लग गया। सभी लोग उसके शव के आने की प्रतीक्षा में उसके घर पर एकत्रित हो गये हैं।

वहीं दूसरे मृतक की शिनाख्त अतिन (26) पुत्र वीरेंद्र यादव निवासी एटा चैराहा के रूप में हुई है। अतिन इंजीनियरिंग की कॉम्पटीशन की तैयारी दिल्ली में कर रहा था। अंशुमन का दोस्त था। अतिन की 12 मार्च की शादी थी। पूरा परिवार शादी की तैयारियों में जुटा हुआ था। जैसे ही उसकी मौत की खबर परिवार को लगी तो शादी वाले घर में कोहराम मच गया। अतिन परिवार में दूसरे नंबर का था। बड़ा भाई सचिन है।

- Advertisement -
- Advertisement -spot_img

Related News

- Advertisement -