Skip to content

शिकोहाबाद: पर्ची पर शराब वितरण की सूचना पर शराब दुकानों पर की छापेमारी

-दो घंटे की सीसीटीवी रिकार्डिंग मिली बंद, अधिकारियों ने दी चेतावनी

शिकोहाबाद। नगर की कुछ देशी और अंग्रेजी शराब की दुकानों पर शाम छह से आठ बजे के बीच पर्ची पर शराब देने की शिकायत मिली। जिसके बाद उप जिलाधिकारी ने सीओ और आबकारी निरीक्षक के साथ नगर की तीन दुकानों को चेक किया। जांच में शाम छह से आठ बजे तक दुकान के सीसीटीवी फुटेज बंद मिले। जिससे अधिकारियों को शिकायत के सही होने की पुष्टि हुई। इस पर अधिकारियों ने दो दुकान स्वामियों पर कार्यवाही की है।

बृहस्पतिवार रात आठ बजे के करीब शराब की दुकानों के खिलाफ कार्यवाही की गई। इस दौरान टीम ने नगर की दो दुकानों को चेक किया। दोनों ही दुकानों पर लगे सीसीटीवी कैमरा शाम छह से लेकर 8 बजे के बीच पिछले तीन दिन से बंद पाये गये। एक दुकान पर विक्री रजिस्टर अपूर्ण पाया गया। औपचारिकताएं अधूरी पाई गई। उप जिलाधिकारी आदेश सागर ने बताया कि आज्ञत सूत्रों से यह शिकायत प्राप्त हुई थी कि शाम 6 बजे से 8 बजे के बीच चुनाव की दृष्टिगत राजनीतिक पार्टियों के माध्यम से पर्ची वितरण किया जाता है। पर्ची के आधार पर शराब वितरित की जा रही है। इसी क्रम में निरीक्षण किया गया। जिसमें सर्किल ऑफिसर शिकोहाबाद प्रवीण तिवारी, एक्साइज इंस्पेक्टर चेतन सिंह, फ्लाइंग एस्कॉर्ट टीम के प्रभारी रवि कुमार, थाना अध्यक्ष अनिल कुमार सिंह मौके पर उपस्थित रहे। टीम ने सर्वप्रथम गिहार कॉलोनी स्थित अंग्रेजी की शराब की दुकान रही। दूसरी दुकान सुभाष तिराहे पर चेक की गई। दोनों ही दुकानों पर अनियमितताएं मिली हैं।

इस बारे में इंस्पेक्टर अनिल कुमार ने बताया कि कार्यवाही हेतु गिहार कॉलोनी के समीप स्थित शराब ठेका के रजिस्टर लिए है। जांच में यदि अनियमिताएं पाई जाती है तो ठेका का निरस्तीकरण की कार्यवाही की जाएगी। इसके साथ एफआईआर दर्ज कर कठोर कार्रवाई की जाएगी। फिलहाल अभी सभी रजिस्टरों की जांच आबकारी विभाग द्वारा की जा रही है। जांच रिपोर्ट आने के बाद ही कार्यवाही की जाएगी। तब तक के लिए ठेका को बंद कर दिया गया है।

वहीं संयुक्त टीम के निरीक्षण व कार्यवाही के फलस्वरूप जसराना एटा रोड पर स्थित अग्रेजी शराब की दुकान जसराना को मय माल के सील कर मौके पर मौजूद अभियुक्त राम मोहन पुत्र अतर सिह निवासी ग्राम मुस्तफाबाद थाना जसराना जनपद फिरोजाबाद को गिरफ्तार किया गया है। इस कार्यवाही के बाद से जिला व पुलिस प्रशासन ने अपनी सभी टीमों को और सक्रिय किया है और ऐसी घटनाओं पर 24 घंटे अपनी पैनी नजर बनाए हुए है। जिलाधिकारी रमेश रंजन ने सभी अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिए है कि इस प्रकार के शराब, नकदी व वस्तू वितरण करने वालों पर कठोर कार्यवाही करते हुए संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज किया जाएगा। उन्हे जेल भेजा जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *