Skip to content

शिकोहाबाद: प्रसव के दौरान महिला की प्राइवेट अस्पताल में मौत, काटा हंगामा

-परिजनों ने महिला के शव को सड़क पर रखकर लगाया जाम
-प्रभारी निरीक्षक ने परिजनों को समझा-बुझाकर खुलवाया जाम, कार्यवाही का दिया आश्वासन

शिकोहाबाद। एटा रोड स्थित एक प्राइवेट अस्पताल में प्रसव के दौरान डॉक्टर की लापरवाही के चलते प्रसूता की मौत हो गई। महिला की मौत के बाद स्वजनों ने शव को सड़क पर रख कर जाम लगा दिया। जाम की सूचना पर पहुंचे प्रभारी निरीक्षक ने स्वजनों को समझा-बुझाकर जाम खुलवा दिया। इस दौरान प्रभारी निरीक्षक ने पीड़ित परिवार को कार्यवाही का आश्वासन दिया है। मौके पर लोगों की भीड जुटी हुई है। वहीं अस्पताल का स्टाफ भाग गया है।

शोभनपुर निवासी द्रोपदी (24) पत्नी रामकुमार को शुक्रवार शाम को प्रसव पीढ़ा प्रारंभ हुई। परिजन उसको लेकर एटा रोड स्थित एमडी हॉस्पीटल आए। यहां तैनात स्टाफ ने महिला को भर्ती कर लिया और रात 11 बजे के करीब उसका ऑपरेशन हुआ। महिला ने एक लडकी को जन्म दिया। ऑपरेशन के बाद महिला के पेट में दर्द शुरू हो गया। स्वजनों का आरोप है कि स्टाफ ने महिला का कोई उपचार नहीं किया और ना ही कहने के बाबजूद रेफर किया। शनिवार दोपहर एक बजे के करीब उसकी मृत्यु हो गई। महिला की मौत के बाद अस्पताल में तैनात स्टाफ भाग गया। जानकारी होने पर परिजनों ने हंगामा काटा। इसके बाद शव को शिकोहाबाद-एटा मार्ग पर रख कर स्वजनों ने जाम लगा दिया।

महिला की मौत और जाम की सूचना पर थाना प्रभारी अनिल कुमार फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे और जाम लगा रहे स्वजनों को हड़का कर जाम खुलवा दिया। स्वजन उच्चाधिकारियों को मौके पर बुलाने की मांग कर रहे थे। इस दौरान प्रभारी निरीक्षक ने स्वजनों को उचित कार्यवाही का आश्वासन दिया है। फिलहाल मृतका के परिवार के लोग शव को अस्पताल के सामने रख कर विलाप कर रहे हैं। परिजनों ने बताया कि महिला की यह दूसरी डिलेवरी थी। पहला पांच साल का एक बेटा शिवम है। यह अस्पताल अखिलेश के मकान में चल रहा है।

इस दौरान स्टाफ ने अस्पताल के नाम का लगा बैनर हटा दिया है और दीवार पर लिखे नाम पर पेंट कर दिया है। जिससे स्वजनों में आक्रोश व्याप्त है। सूचना मिलते ही डिप्टी सीएमओ मोहम्मद फारुक अहमद और एसडीएम मौके पर पहुंच गये। अस्पताल को सील कर दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *