फिरोजाबाद: आईआईटी बीएचयू की छात्रा के साथ हुई घटना की कांग्रेसियों ने की निंदा

फिरोजाबाद। उत्तर प्रदेश अपराध की आग में जल रहा है। अपराधी बेखौफ होकर प्रतिदिन अपराधों को अंजाम दे रहे हैं। वर्ष 2023 एनसीआरबी की रिपोर्ट के आंकड़ों के अनुसार उत्तर प्रदेश महिलाओं के प्रति अपराधों के मामलों में पहले स्थान पर है। इसी रिपोर्ट के अनुसार पूरे भारत में होने वाले अपराधों में 15 प्रतिशत अपराध उत्तर प्रदेश में होते हैं। यह बात कांग्रेस जिलाध्यक्ष संदीप तिवारी ने बाईपास रोड स्थित कांग्रेस जिला कार्यालय पर आयोजित प्रेसवार्ता के दौरान कही।

उन्होंने कहा प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में दो नवम्बर 2023 को आईआईटी बीएचयू की छात्रा का तीन लड़कों द्वारा जबरन गन पॉइंट पर उसकी नग्न अवस्था का वीडियो बनाकर, उसके साथ दुष्कर्म किया। तीन नवंबर को ही उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय राय द्वारा बता दिया गया था कि इस पूरी घटना में भाजपा के लोगों का हाथ है। इस पर उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज कर दी गई। पांच नवंबर को सीसीटीवी फुटेज से लड़कों की पहचान कर ली गई।

आठ नवंबर को पीड़िता द्वारा भी उनकी पहचान कर ली गई। आरोपियों की पुष्टि होने के पश्चात भाजपा द्वारा उन्हें मध्य प्रदेश के चुनाव प्रचार में भेज दिया गया।जिलाध्यक्ष ने कहा कि आरोपियों की पहचान होने के बाद भी उनको गिरफ्तार करने में दो महीने क्यों लगे, क्या पांच राज्यों में चुनाव के कारण भाजपा आरोपियों को बचा रही थी। अगर छात्रों और कांग्रेस अध्यक्ष का इतना दबाव न होता तो शायद आरोपियों की गिरफ्तारी भी नहीं होती।

उन्होंने कहा कि दूसरी घटना प्रदेश के मुख्यमंत्री के क्षेत्र गोरखपुर की है। जहां विनोद उपाध्याय को सुल्तानपुर में पुलिस द्वारा कथित मुठभेड़ में मार दिया गया। गोरखपुर के रहने वाले विनोद उपाध्याय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पुराने विरोधी रहे हैं। योगी जी के मुख्यमंत्री बनने के बाद विनोद उपाध्याय पर शिकंजा बढ़ता गया और गिरफ्तारी के लिए उन पर इनाम की धनराशि भी मामले को गंभीर दिखने के लिए बढ़ाई गई। यह मुठभेड़ व्यक्तिगत कुंठा और राजनीतिक दुवेष से प्रेरित है। योगी सरकार का एक जाति विशेष विरोधी चेहरा उजागर करती है।

कांग्रेस पार्टी इन घटनाओं की निंदा करती है तथा न्यायिक जांच की मांग करती है। प्रेस वार्ता के दौरान मुकेश गौड़ (नगर अध्यक्ष शिकोहाबाद), यश दुबे (देनप जिलाध्यक्ष), संत कुमार (एससी/एसटी जिलाध्यक्ष), शोएब अंसारी (अल्पसंख्यक जिलाध्यक्ष), रामशंकर राजौरिया (ब्लॉक अध्यक्ष), मानसिंह दिवाकर (जिला महासचिव), रामकुमार रावत, रोहित यादव आदि मौजूद रहे।

- Advertisement -
- Advertisement -spot_img

Related News

- Advertisement -