फिरोजाबाद: गर्भनिरोधक साधनों के प्रति लोगों में जागरूकता लाने के लिए केमिस्टों से मांगा सहयोग

फिरोजाबाद। परिवार नियोजन कार्यक्रम में अब स्वास्थ्य विभाग केमिस्टों व फार्मासिस्टों का भी सहयोग लेगा। समुदाय स्तर पर परिवार नियोजन कार्यक्रम के प्रति जागरूकता, स्वीकार्यता व पहुँच बढ़ाने के लिए गुरुवार को जनपद में स्वास्थ्य विभाग के तत्वावधान में पॉपुलेशन सर्विसेज इंटरनेशनल (पीएसआई) इंडिया के सहयोग से एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया।

परिवार नियोजन कार्यक्रम के नोडल अधिकारी डा. नरेंद्र ने कार्यशाला में कहा कि केमिस्ट के जरिये गर्भ निरोधक साधनों के लिए ग्राहकों को परामर्श देने और साधनों के प्रति समझ बढ़ाने के लिए यह अच्छी पहल है। स्थानीय लोग केमिस्ट से अपने लिए आए दिन दवाएं लेते हैं। कई लोग परिवार नियोजन के साधन भी खरीदते हैं। ऐसे में केमिस्ट यदि उन्हें सही साधन लेने के लिए प्रेरित करें, तो परिवार नियोजन कार्यक्रम और बेहतर तरीके से चलेगा।

जिला कार्यक्रम प्रबंधक मोहम्मद आलम ने कहा कि राष्ट्रीय पारिवारिक स्वास्थ्य सर्वे-5 के अनुसार 50 परसेंट से अधिक लोग निजी क्षेत्र से परिवार नियोजन के साधन लेना पसंद करते हैं। ऐसे में केमिस्ट परिवार नियोजन कार्यक्रम के प्रति लोगों को और ज्यादा जागरुक कर सकते हैं। पीएसआई के मैनेजर प्रोग्राम इंप्लीमेंटेशन अनिल द्विवेदी ने प्रोजेक्टर के माध्यम से कार्यक्रम की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि परिवार में खुशहाली लाने के साथ ही तमाम तरह की शारीरिक परेशानियों से निजात दिलाने में नए अस्थायी गर्भनिरोधक साधनों की अहम भूमिका है। ड्रग इंस्पेक्टर देशबंधु ने आश्वासन दिया कि सभी फार्मेसी और केमिस्टों को इस कार्यक्रम के प्रति प्रोत्साहित किया जाएगा।

एसोसिएशन के अध्यक्ष पंकज दत्त बंसल ने कहा कि कंडोम, आपातकालीन गोली, प्रेग्नेसी किट को लेकर ग्राहकों में अभी भी झिझक है। इसको दूर करने में कैमिस्ट अहम भूमिका निभा सकते हैं। कार्यक्रम को संबोधित कर पीएसआई के समन्वयक पंकज ने केमिस्टों से सहयोग करने की अपील की। कार्यक्रम में एमएनई ऑफिसर अपर निदेशक कार्यालय के अफजल हुसैन मौजूद रहे।

- Advertisement -
- Advertisement -spot_img

Related News

- Advertisement -