फिरोजाबाद- फुफेरे भाईयों ने की थी बैंककर्मी की हत्या, लूट के इरादे से मार दी थी गोली

फिरोजाबाद। दो फुफेरे भाइयों ने लूट के इरादे से बैंक कर्मचारी की गोली मारकर हत्या कर दी थी और वारदात को अंजाम देकर फरार हो गए थे। पुलिस ने बाल अपचारी समेत दो लुटेरों को शुक्रवार शाम गिरफ्तार कर लिया। पुलिस प्रशासन ने शनिवार को हत्याकांड का पर्दाफाश करते हुए एक हत्यारोपित को जेल और बाल अपचारी को बाल सुधार गृह भेज दिया।

जिले के थाना बसई मोहम्मदपुर के गांव फतेहपुर आनंदीपुर निवासी 28 वर्षीय शिवम शर्मा पुत्र राम निवास निवासी फतेहपुर आनंदीपुर शहर की एचडीएफसी बैंक में फील्ड आफिसर के पद पर कार्यरत था। 21 फरवरी की रात्रि घर लौटते समय खंजापुर-गाजीपुर गांव के बीच ईंट-भट्ठे के पास पीछा कर रहे दो लुटेरों ने शिवम को तमंचा दिखा कर रोकने की कोशिश की। उसके न रुकने पर लुटेरों ने गोली मार कर उसकी हत्या कर दी थी। मृतक के पिता राम निवास ने अज्ञात बदमाशों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया था। हत्यारों की गिरफ्तारी के लिए एसएसपी आशीष तिवारी ने पुलिस की पांच टीमें गठित की थीं। इसमें शहर के सभी थानों के इंस्पेक्टर भी शामिल किए गए थे।

एसपी ग्रामीण डॉ. अखिलेश नारायण सिंह ने शनिवार को एसपी सिटी कार्यालय पर वारदात का पर्दाफाश करते हुए बताया कि नगला बरी फ्लाईओवर से ही बाइक सवार लुटेरे शिवम का पीछा कर रहे थे। खंजापुर-गाजीपुर गांव के बीच शिवम को रोकने की कोशिश की, उसके बाइक न रोकने पर लुटेरों ने गोली मार कर हत्या कर दी थी। जब तक वे शिवम का सामान लूटते तब तक दूसरे राहगीरों को आते देख हत्यारे फरार हो गए। हत्यारों की पहचान के लिए एचडीएफसी बैंक से लेकर वारदात स्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों के फुटेज पुलिस ने खंगाले। इसमें शिवम का पीछा करते दो लुटेरे बाइक पर नजर आए थे।

दोनों को शुक्रवार तीसरे पहर चार बजे सोफीपुर क्षेत्र में वाटर प्लांट के पास से अरूण कुमार निवासी रसूलपुर और उसके 17 वर्षीय फुफेरे भाई को गिरफ्तार किया गया। वार्ता के समय एसपी सिटी मुकेश मिश्रा, सीओ सिटी हरीमोहन सिंह, सीओ सदर हीरालाल कन्नौजिया, इंस्पेक्टर उत्तर संजीव कुमार दुबे, रसूलपुर इंस्पेक्टर कमलेश कुमार, इंस्पेक्टर बसई मुहम्मदपुूर ऋषि कुमार, एसओजी प्रभारी रवि कुमार, एसओ रामगढ़ हरवेंद्र मिश्रा आदि उपस्थित रहे।

- Advertisement -
- Advertisement -spot_img

Related News

- Advertisement -