फिरोजाबाद- यूक्रेन में फंसे छात्रों के घर पहुंचे डीएम, हर संभव मद्द का दिया भरोसा

फिरोजाबाद। यूक्रेन और रूस के बीच चल रहे युद्ध को लेकर फिरोजाबाद के वह माता-पिता भी परेशान हैं जिनके बेटे या बेटी यूक्रेन पढ़ाई करने गए थे और वहीं फंस गए। अब उन्हें बच्चों की सुरक्षा को लेकर चिंता हो रही है। ऐसी संकट की घड़ी में डीएम ने उन माता-पिता का हौंसला बढ़ाने का काम किया है जिनका बेटा यूक्रेन में फंसा हुआ है।

मक्खनपुर निवासी पियूष गुप्ता यूक्रेन में एमबीबीएस कर रहे हैं। शनिवार को डीएम सूर्यपाल गंगवार उनके घर पहुंचे और पियूष के पिता से वार्ता की। उन्होंने पिता को मदद का भरोसा दिलाया कि जिला प्रशासन के साथ ही सरकार ऐसे परिवारों की पूरी मदद कर रही है, जिनके बच्चे यूक्रेन में फंसे हुए हैं। उन्होंने कहा कि बेटे से बात हो तो उसे बताना कि घबराने की आवश्यकता नहीं है। केंद्र सरकार भी इस पूरे मामले को लेकर नजर बनाए हुए है। उन्होंने पिता को अपना नंबर देते हुए कहा कि इस समय मानसिक दृढ़ता का परिचय दें। वह माता-पिता हतोत्साहित न हों, पूरी मदद की जा रही है।

जिलाधिकारी शिकोहाबाद के पंजाबी काॅलोनी जे.बी. सिंह राना के घर पहुंचे। उनका बेटा दीपांशु यूक्रेन में डा. है। जिलाधिकारी ने अपना फोन मिलाकर दीपांशु से सीधी बात कर उनके हाल-चाल जाने और उन्हे समझाया कि वन टू वन वहां के दूतावास के सम्पर्क में रहें, दूतावास से पूरी मदद मिलेगी। दीपांशु ने बताया कि मैं पूरी तरह सुरक्षित हॅू। परिवारीजन चिंता न करें। जिलाधिकारी ने उनके माता कमलेश से भी बेटे की बात कराई और अपना मोबाइल नम्बर दिया और बताया कि जब जरूरत हो तब सीधी उनसे बात कर सकते है। हर सम्भव जिला प्रशासन से मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि ऐसे छात्र जो यूक्रेन में फंसे हुए हैं, उनके लिए सिविल लाइन पर हेल्पलाइन कंट्रोल रूम स्थापित किया गया है।

एडीएम अभिषेक कुमार ने बताया कि जिले के लिए कंट्रोल ऑफिस नंबर 9454418947, 9368465130 यह है। यदि किसी परिवार का बेटा या बेटी यूक्रेन में फंसे हुए हैं तो वह 9454418947 व 9368465130 या राज्य के कंट्रोल रूम नंबर 0522-1070, 9454411081 पर जानकारी दे सकते हैं। यूक्रेन में फंसे छात्रों की स्वदेश वापसी की व्यवस्था के तहत अपडेटेड एडवाइजरी भारतीय दूतावास कीव, यूक्रेन द्वारा लगातार उनकी वेबसाइट में अपलोड एडवाइजरी की जा रही है।

- Advertisement -
- Advertisement -spot_img

Related News

- Advertisement -