फिरोजाबाद- राष्ट्रीय लोक अदालत में वादों का हुआ निस्तारण

फिरोजाबाद। जनपद न्यायालय स्थित केन्द्रीय सभागार में राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया गया। जिसमें सुलह समझौतों के माध्यम से वादों का निस्तारण कराया गया।

कार्यक्रम में सुरेन्द्र नाथ त्रिपाठी, परिवार न्यायालय फिरोजाबाद एवं राजेश कुमार सिंह मोटर दुर्घटना दावा अधिकरण ने कहा कि राष्ट्रीय लोक अदालत में सहभागिता से अधिक से अधिक वादों का निस्तारण करायें। जिलाधिकारी सूर्यपाल गंगवार ने राष्ट्रीय लोक अदालत की महत्ता और इसके लाभों के बारे में जानकारी दी।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आशीष तिवारी ने कहा कि शमनीय प्रकृति के वादों का राष्ट्रीय लोक अदालत एक उत्तम समाधान है और इससे जनपद के मुकदमों का भी भार कम होता है।

प्राधिकरण की प्रभारी सचिव/सिविल जज (वरिष्ठ खण्ड) मिनाक्षी सिन्हा द्वारा राष्ट्रीय लोक अदालत में नियत किये वादों और राष्ट्रीय लोक अदालत के सम्बन्ध में किये गये प्रयासों के सम्बन्ध में जानकारी दी गयी।

जिसमें समस्त प्रकार के आपराधिक मामलें, चैक बाउन्स से सम्बन्धित, बैंक रिकवरी, मोटर दुर्घटना प्रतिकर, श्रम वाद, बिजली एवं जल के बिल से सम्बन्धित शमनीय दण्ड वाद, वैवाहिक व पारिवारिक वाद, भूमि अध्याप्ति वाद, सेवा निवृत्ति के परिलाभों सम्बन्धी मामले, राजस्व वाद, अन्य सिविल वाद से सम्बन्धित प्रकरणों केे वदों का निस्तारण सुलभ समझौता द्वारा कराया गया।

इस दौरान न्यायिक अधिकारीगण के अतिरिक्त अपर जिलाधिकारी (वित्त एवं राजस्व) अभिषेक सिंह, एसपी सिटी मुकेश मिश्रा, अपर नगर आयुक्त संतोष कुमार यादव, बार एसोशिएसन के अध्यक्ष महेन्द्र सिंह यादव, महासचिव देवेन्द्र सिंह यादव आदि मौजूद रहे।

- Advertisement -
- Advertisement -spot_img

Related News

- Advertisement -