फिरोजाबाद: गंगा दशहरा पर श्रद्धालुओं ने लगाई गंगा और यमुना में डुबकी

फिरोजाबाद। गंगा दशहरा का पर्व रविवार को नगर व ग्रामीण क्षेत्रों में बड़े ही उत्साह के साथ मनाया गया। कोई गंगा स्नान करने गया, तो किसी ने यमुना जी में ही डुबकी लगाई। स्नान कर श्रद्धालुओं ने पूजा अर्चना कर खरबूज, तरबूज और जलेबी का दान किया।

पर्व को लेकर सुबह से ही श्रद्धालुओं में खासा उत्साह देखने को मिला। कुछ लोग सोरों गंगा स्नान करने गए, तो कुछ लोगों ने सोफीपुर, चंद्रवाड़, नयाबांस और शंकरपुर के यमुना घाटों पर डुबकी लगाई। स्नान करने के लिए सुबह से ही श्रद्धालुओं की भीड़ पहुंचने लगी थी। कोई ई-रिक्शा और आटो तो कोई अपने वाहन से पहुंचा। स्नान भले ही यमुना में किया, लेकिन भाव गंगा स्नान का ही रहा। इसलिए डुबकी लगाने से पहले श्रद्धालुओं ने गंगा मैया के जयकारे लगाए। सोफीपुर में स्नान के बाद किनारे पर स्थित हनुमान मंदिर और शिव मंदिर पर पूजा की। यह क्रम दोपहर 12 बजे तक चलता रहा। घरों में भी स्नान, दान और पूजन हुआ। श्रद्धालुओं की भीड़ को देखते हुए यमुना किनारे घाटों पर जगह-जगह पुलिस फोर्स तैनात रहा।

दुकानों पर रही भीड़

जलेबी, खरबूज और तरबूज खरीदने के लिए दुकानों पर भीड़ लगी रही। दुकानदारों ने मौके का फायदा उठाया। मनमाने दाम पर जलेबी, खरबूज और तरबूज की बिक्री की गई। दोपहर एक बजे तक जलेबी की बिक्री हुई। गली मुहल्लों के साथ मिठाई की प्रमुख दुकानों पर भी देसी घी की जलेबी खूब बिकी। इसी तरह सड़कों पर तरबूज, खरबूज और आम खरीदने के लिए आपाधापी मची रही। जलेबी 140 रुपये से लेकर 300 रुपये तक, आम 50 से 80 रुपये, तरबूज और खरबूज 20 से 30 रुपये प्रति किलोग्राम बिके। शाम को युवाओं ने आसमान में रंग बिरंगी पतंग उड़ाई।