फिरोजाबाद: जिलाधिकारी ने जनपद में स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर करने पर दिया जोर

-संस्थागत प्रसवों में कमी आने व स्वास्थ्य कार्यक्रमों में खराब प्रगति पर एमओआईसी व सम्बन्धितों पर लगाई फटकार

फिरोजाबाद। जिलाधिकारी रमेश रंजन की अध्यक्षता में बुधवार को जिला स्वास्थ्य समिति नगरीय की समीक्षा बैठक कलेक्ट्रैट सभागार में आयोजित की गई। जिसमे राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अंतर्गत संचालित विभिन्न स्वास्थ्य कार्यक्रमों व योजनाओं की प्रोजेक्टर के माध्यम से एक-एक कर गहनता से समीक्षा की गई। बैठक में जिलाधिकारी ने सभी प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों को निर्देश दिए कि वह स्वास्थ्य सेवाओं में और अधिक सुधार करें और इसका सीधा लाभ जनता तक पहुचाऐं।

उन्होंने संस्थागत प्रसव सरकारी अस्पतालों में कम होने पर चिंता व्यक्त की। उन्होंने सीएमओ को सरकारी अस्पताल ज्यादा प्रसव कराने के निर्देश दिए। वहीं सीएमएस व एमओआईसी को अपने स्वास्थ्य केंद्रों पर डिलीवरी केस को प्राइवेट अस्पताल की राह दिखाने वाली आशा, स्वास्थ्य कार्यकत्रीयों को हटाने के निर्देश दिए। स्वास्थ्य कार्यक्रम में खराब प्रगति पर नगर के सभी प्रभारी चिकित्साधिकारियों को कड़ी फटकार लगाते हुए उन्हे सुधार करने के निर्देश दिए। अन्यथा की दशा में उनके विरूद्ध विभागीय कार्यवाही प्रस्तावित करने की भी चेतावनी दी।

उन्होने सीएमओ को निर्देश दिए कि जिन स्वास्थ्य केन्द्रों पर सबसे खराब काम करने वाली एएनएम को नोटिस दिए जाए और उनके विरूद्ध कठोर कार्यवाही की जाए। उन्होने स्वास्थ्य योजनाओं में खराब प्रगति व कार्य में शिथिलता पाए जाने पर प्रभारी चिकित्साधिकारी रामनगर को भी नोटिस देने के निर्देश दिए है। नगर के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर चिकित्सकीय स्टाफ की कमी को दूर करने के लिए मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देश दिए कि जिला स्तर पर जो स्टाफ की भर्ती की जा सकती हो उसे करने की कार्यवाही प्रारम्भ कर दें और शासन स्तर से जो उपलब्ध होना अपेक्षित है उसके लिए उनके माध्यम से पत्राचार किया जाए।

बैठक में मुख्य विकास अधिकारी दीक्षा जैन, मुख्य चिकित्साधिकारी रामबदन राम, प्रिंसिपल मेडिकल काॅलेज डाॅ बलवीर सिंह, मुख्य चिकित्साधीक्षक नवीन जैन, जिला प्रबन्धक मो. आलम सहित नगरीय स्वास्थ्य केन्द्र के सभी प्रभारी व चिकित्सक आदि उपस्थित रहे।

 

Ravi
Ravi

रवि एक प्रतिभाशाली लेखक हैं जो हिंदी साहित्य के क्षेत्र में अपनी अनूठी शैली और गहन विचारधारा के लिए जाने जाते हैं। उनकी लेखनी में जीवन के विविध पहलुओं का गहन विश्लेषण और सरल भाषा में जटिल भावनाओं की अभिव्यक्ति होती है। रवि के लेखन का प्रमुख उद्देश्य समाज में सकारात्मक परिवर्तन लाना और पाठकों को आत्मविश्लेषण के लिए प्रेरित करना है। वे विभिन्न विधाओं में लिखते हैं,। रवि की लेखनी में मानवीय संवेदनाएँ, सामाजिक मुद्दे और सांस्कृतिक विविधता का अद्वितीय समावेश होता है।

Articles: 2218