फिरोजाबाद: दो दिन पहले जेल गए बंदी की मौत

-बाइक चोरी के मामले में पुलिस ने भेजा था जेल

फिरोजाबाद। बाइक चोरी के मामले में जिस बंदी को पुलिस ने दो दिन पहले जेल भेजा। उसकी मौत हो गई। जेल प्रशासन बीमारी से मौत होने का कारण बता रहा है। परिजनों ने जेल प्रशासन पर आरोप लगाया है। बंदी की मौत के बाद उसके परिवार में कोहराम मचा हुआ है।

थाना दक्षिण क्षेत्र के नई आबादी निवासी नगला पचिया निवासी 28 वर्षीय आकाश सिंह पुत्र बीरी सिंह को थाना दक्षिण पुलिस ने बाइक चोरी के मामले में गिरफ्तार कर जेल भेजा था। उसके साथ ही पुलिस ने शिवम सिंह निवसी हंस वाहिनी स्कूल वाली गली नाले की पुलिया हिमायूंपुर थाना दक्षिण को भी जेल भेजा था। शुक्रवार सुबह आकाश की मौत हो गई। जेल प्रशासन मौत का कारण बीमारी बता रहा है।

जेल सुप्रीडेंट एके सिंह का कहना है कि 19 जून को चोरी के मामले में उसे जेल लाया गया था। गुरुवार रात उसकी तबियत खराब हुई थी। डाक्टरों ने जेल में उसे दवा दी और वह ठीक हो गया था। शुक्रवार सुबह पांच बजे अचानक फिर उसकी तबियत बिगड़ी। उसे जिला अस्पताल लेकर गए। जहां उसकी मौत हो गई। वहीं, मृतक की पत्नी प्रीती का रो-रोकर बुरा हाल है। उसका कहना है कि वह पति के साथ किराए के मकान में रहती थी। कुछ दिन पहले वह अपने माता पिता के साथ रहने चले गए थे। वह अब किराए के मकान में अपनी गुजर बसर कैसे करेगी।

सदर विधायक ने की मुलाकात

सदर विधायक मनीष असीजा ने मृतक के परिजनों से मुलाकात करते हुए हरसंभव मदद का भरोसा दिलाया है। उन्होंने युवक की मौत के कारणों को लेकर अधिकारियों से वार्ता करने का अश्वासन भी दिया।

भीम आर्मी के पदाधिकारियों ने किया प्रदर्शन

पोस्टमार्टम हाउस पर भीम आर्मी के पदाधिकारी भी पहुंच गए। उन्होंने जेल प्रशासन पर हत्या का आरोप लगाते हुए जमकर विरोध प्रदर्शन किया। अभी तक भीम आर्मी के पदाधिकारी धरने पर बैठे हुए हैं। वह इस मामले की निष्पक्ष जांच कराने की मांग कर रहे हैं।