फिरोजाबाद: जनपद में बढते वायु प्रदूषण को लेकर डीएम ने की चिंता व्यक्त

-बैठक में अधिकारियों से पोल्यूशन फैलाने वालों पर सख्त कार्रवाई करने के दिए निर्देश  

फिरोजाबाद। जिलाधिकारी रवि रंजन की अध्यक्षता में सोमवार को कलेक्ट्रेट सभागार में राष्ट्रीय स्वच्छ वायु कार्यक्रम के अंतर्गत जनपद में वायु प्रदूषण को नियंत्रण किए जाने के सम्बन्ध में सम्बन्धित विभागीय अधिकारियों के साथ बैठक आयोजित की गयी। बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने जनपद की वायु प्रदुषण पर चिन्ता व्यक्त करते हुए कहा कि वायु गुणवत्ता में सुधार हेतु प्रदूषण विभाग द्वारा जो माइक्रोप्लान तैयार किए गया है, उस पर सभी सम्बन्धित विभाग गम्भीरता के साथ कार्य करें।

उन्होने शहर में कूड़ा कचरा जलाए जाने एवं कोयले की भट्टियां संचालित किए जाने पर गहरी नाराजगी व्यक्त करते हुए नगर निगम के अधिकारियांे को निर्देश दिए कि वह कर्मचारियों की अलग-अलग टीमें बनाकर प्रातः काल में शहर में दौडाए। कूडा कचरा जलाने वाले व कोयले की भटिटयां चलाने वाले पर सख्ती से कार्यवाही करते हुए जुर्माना लगाए। इस पर नगर निगम के अधिकारियों ने जानकारी देते हुए बताया कि अभी हाल ही में कूडा जलाने वाले 10 लोगों पर कार्यवाही करते हुए 45000 का जुर्माना वसूला गया है। जिलाधिकारी ने इस कार्यवाही को और अधिक बडे स्तर पर चलाने के निर्देश दिए।

उन्होने कहा कि शहर में पोल्यूशन फैलाने वालों पर सख्ती से कार्यवाही की जाए। उन्होने निर्देश दिए कि शहर के चैराहों पर लाल बत्ती होने पर खडे़ हुए वाहन के इंजन को उस दौरान बंद रखा जाए। उन्होने नगर निगम के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वह सुनिश्चित करें कि इन निर्देशों का एनाउंसमेंट चैराहों पर लगे आईटीएमएस के साउण्ड स्पीकरों से कराया जाए। उन्होने सहायक सम्भागीय परिवहन अधिकारी को निर्देश दिए कि बिना पोल्यूशन सर्टिफिकेट के कोई भी वाहन संचालित न होने पाए और यदि ऐसे वाहन पाए जाते है, तो उन पर जुर्माना लगाया जाए।

उन्होंने शहर में हो रहे जगह-जगह भवन निर्माण कार्य करने वाले ठेकेदारों व भवन स्वामि को भी निर्देश दिए कि वह सुनिश्चित करें कि वहां पर धूल नही उडनी चाहिए, इसके लिए पानी का छिड़काव कराऐ। उन्होंने एनएचआई व नगर निगम एवं पीडब्ल्यूडी के सभी मार्गाें के किनारें जमा धूल, मिटटी, गन्दगी की सफाई कराने के निर्देश दिए। उन्होने नगर निगम के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वह निरंतर पानी का छिडकाव करवाते रहें, साथ ही पेड़ों पर भी पानी का छिडकाव करवाऐं, ताकि वायु प्रदूषण पर नियंत्रण पाया जा सके। बैठक के दौरान सहायक सम्भागीय परिवहन अधिकारी राजेश कर्दम, जिला विद्यालय निरीक्षक, नगर निगम व प्रदूषण विभाग, एनएचआई सहित सम्बन्धित विभागीय अधिकारी उपस्थित रहें।

- Advertisement -
- Advertisement -spot_img

Related News

- Advertisement -