सिरसागंज: हाईस्कूल और इंटरमीडिएट के मेधावी हुए सम्मानित

सिरसागंज। एमडी जैन इंटर कॉलेज, सिरसागंज के उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद के हाईस्कूल और इंटरमीडिएट के मेधावियों का सम्मान समारोह विद्यालय के प्रधानाचार्य नीरज कुमार जैन और प्रवक्ता अश्वनी कुमार जैन के संयोजन में किया गया। प्रधानाचार्य ने विद्यार्थियों को शुभकामनाएं प्रदान करते हुए उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की

अश्वनी कुमार जैन ने बताया कि इस वर्ष भी विद्यालय का परीक्षा परिणाम उत्कृष्ट रहा। उन्होंने बताया कि हाईस्कूल की परीक्षा में अंजली गुप्ता ने 90ः, सचिन व ऐंजल यादव ने 88ः, विशाल व जैनब ने 85ः, शौर्य सक्सेना व मोनिका ने 84ः अंक प्राप्त किये हैं। इसके साथ ही अंग्रेजी माध्यम से हाईस्कूल परीक्षा में प्राची शर्मा ने 93.4ः अंको के साथ जनपद में नौवां स्थान प्राप्त किया, गौरी शर्मा 91ः, हिमांशु 90.8ः, अंकिना जैन व मदन ने 90.5ः एवं पर्व ने 90ः अंक प्राप्त किए हैं। इंटरमीडिएट की परीक्षा मे निवेदका ने 89.8ः अंक प्राप्त करके विद्यालय में प्रथम स्थान प्राप्त किया है। संयुक्ता ने 86.4ः, शौर्या यादव ने 84.6ः, यशिका ने 81ः, रश्मी व अरमान खान ने 80.4ः अंक प्राप्त किए हैं। उन्होंने सभी विद्यार्थियों को शुभकामनाएं प्रदान करते हुए उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की। सभी मेधावियों का सम्मान विद्यालय परिवार द्वारा किया गया। सम्मान पाकर विद्यार्थियों के चेहरे पर खुशी झलक रही थी।

इस दौरान संजय कटारा, राजकुमार, संजीव जैन, ध्रुवकांत झा, सुनील जैन, शैलेन्द्र कुमार जैन, संतराम, सत्यपाल सिंह, प्रशांत जैन, नितिन जैन, अमित जैन, मनोज जैन, दुर्गेश नंदन श्रीवास्तव, अंजय जैन, धीरज जैन, विष्णुमणि, निशांत जैन, निर्भय जैन, शिवकुमार सिंह, योगेश श्रीवास्तव, रामगोपाल, हरिशंकर, परेश जैन, नितिन मिश्रा, नितिन कुमार जैन, अंकित जैन, अमित कुमार जैन, कुलदीप जैन, मनोज शाक्य, विपुल जैन, मनीष जैन, नवनीत जैन, रामवीर सिंह, श्रीमती सुकीर्ति चतुर्वेदी, ज्योति जैन, प्रीती जैन, रंजना जैन, साधना मोडवेल, सारिका कुलश्रेष्ठ, स्वाति जैन, सरिता जैन, अंजली जैन, पारुल कुशवाह, शिल्पी आदि समस्त विद्यालय परिवार उपस्थित रहा

 

Ravi
Ravi

रवि एक प्रतिभाशाली लेखक हैं जो हिंदी साहित्य के क्षेत्र में अपनी अनूठी शैली और गहन विचारधारा के लिए जाने जाते हैं। उनकी लेखनी में जीवन के विविध पहलुओं का गहन विश्लेषण और सरल भाषा में जटिल भावनाओं की अभिव्यक्ति होती है। रवि के लेखन का प्रमुख उद्देश्य समाज में सकारात्मक परिवर्तन लाना और पाठकों को आत्मविश्लेषण के लिए प्रेरित करना है। वे विभिन्न विधाओं में लिखते हैं,। रवि की लेखनी में मानवीय संवेदनाएँ, सामाजिक मुद्दे और सांस्कृतिक विविधता का अद्वितीय समावेश होता है।

Articles: 2218