फिरोजाबाद: नीट परीक्षा में देवांश ने प्राप्त किए 720 में से 676 अंक

फिरोजाबाद। कड़ी मेहनत और लगन से कोई भी सफलता प्राप्त की जा सकती है। कुछ ऐसा ही कर दिखाया है नगर के देवाशं द्विवेदी ने। नीट परीक्षा में छात्र ने 720 में से 676 अंक प्राप्त किए हैं।

देवांश ने बताया कि उनका शुरू से ही डाक्टर बनने का सपना था, जो अब पूरा होगा। वह पूर्व नगर स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. बीजेएल द्विवेदी के सुपौत्र हैं। डॉ. अशोक द्विवेदी, डॉ. कविता द्विवेदी के सुपुत्र हैं। उन्होंने अपनी सफलता का श्रेय अपने माता-पिता वह गुरुजनों को दिया है। देवांश द्विवेदी के पिता हड्डी एवं जोड़ रोग विशेषज्ञ हैं। पिता ने बताया कि देवांश ने हाईस्कूल की परीक्षा में भी जिला टॉप किया था। उसके इंटरमीडिएट में भी 94 प्रतिशत अंक थे

देवांश बचपन से ही मेधावी छात्र रहा है। वह अपने बाबा, मां व मेरी तरह चिकित्सक बनकर समाज की सेवा करना चाहता है। उसका सपना है कि वह फिरोजाबाद जिले में आर्थिक रूप से कमजोर रोगियों, वह खास तौर से ग्रामीण जनता को स्वास्थ्य संबंधी सुविधाएं इस प्रकार उपलब्ध करवा पाए जिससे उनके ऊपर आर्थिक बोझ ना पड़े।