TMC सांसद महुआ मोइत्रा हो गया मुक़दमा दर्ज़ 79 BNS के तहत FIR दर्ज

TMC सांसद महुआ मोइत्रा हो गया मुक़दमा दर्ज़ 79 BNS के तहत FIR दर्ज

महुआ मोइत्रा पर एफआईआर (FIR): टीएमसी सांसद महुआ मोइत्रा पर एक नया मामला दर्ज किया गया है। यह मामला स्पेशल सेल ने भारतीय दंड संहिता के अंतर्गत दर्ज किया है।

महुआ मोइत्रा पर केस दर्ज: तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) की सांसद महुआ मोइत्रा के खिलाफ अभद्र भाषा के इस्तेमाल पर एफआईआर दर्ज की गई है। भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 79 के तहत, जो किसी महिला की गरिमा को ठेस पहुंचाने से संबंधित है, यह मामला दर्ज हुआ है। महुआ मोइत्रा पर आरोप है कि उन्होंने सोशल मीडिया पोस्ट में राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा पर अपमानजनक टिप्पणी की थी।

महिला आयोग ने शुक्रवार, 5 जुलाई को दिल्ली पुलिस को इस मामले की शिकायत दी थी। इसके बाद स्पेशल सेल ने रविवार, 7 जुलाई को एफआईआर दर्ज कर जांच शुरू की। अब दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल की इंटेलिजेंस फ्यूजन एंड स्ट्रैटेजिक ऑपरेशंस (आईएफएसओ) यूनिट उस सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म की जानकारी लेगी, जिससे रेखा शर्मा के खिलाफ अपमानजनक भाषा का इस्तेमाल किया गया था।

जानिये मामला क्या है 


महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा हाल ही में हाथरस हादसे के घटनास्थल पर गई थीं। इसका एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ। गुरुवार को महुआ मोइत्रा ने इस वीडियो पर टिप्पणी की थी, जिसमें दिखाया गया कि एक व्यक्ति रेखा शर्मा के पीछे चल रहा है और उनके ऊपर छाता पकड़े हुए है। इस वीडियो को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर साझा किया गया, जिसमें एक यूजर ने सवाल उठाते हुए लिखा कि रेखा शर्मा खुद अपना छाता क्यों नहीं ले सकतीं।

इस मामले पर सांसद ने किया पलटवार 

महुआ मोइत्रा ने राष्ट्रीय महिला आयोग की मांग पर पलटवार करते हुए एक्स (पूर्व में ट्विटर) पर लिखा, “दिल्ली पुलिस इन आदेशों पर तुरंत कार्रवाई करे। अगर आपको अगले 3 दिन में त्वरित गिरफ्तारी की मेरी जरूरत पड़े तो मैं पश्चिम बंगाल के नदिया क्षेत्र में रहूंगी।” इसके साथ ही उन्होंने कहा, “हां! मैं अपना छाता खुद पकड़ सकती हूं।” एनसीडब्ल्यू ने इसे अभद्र टिप्पणी और अपमानजनक करार दिया है और कहा कि यह एक महिला के सम्मान के अधिकार का उल्लंघन है। आयोग ने मोइत्रा की टिप्पणी की कड़ी निंदा की है और उनके खिलाफ एफआईआर की मांग करते हुए कहा कि 3 दिनों के भीतर विस्तृत कार्रवाई रिपोर्ट आयोग को सौंपी जानी चाहिए।

गौरव झा
गौरव झा

गौरव झा एक समर्पित और अनुभवी पत्रकार हैं, जो विभिन्न विषयों पर गहन और सूचनाप्रद लेखन के लिए जाने जाते हैं। उन्होंने अपनी पत्रकारिता यात्रा में कई प्रमुख समाचार संस्थानों के साथ काम किया है और अपने निष्पक्ष और तथ्यपूर्ण रिपोर्टिंग के लिए प्रशंसा प्राप्त की है। राजनीति, सामाजिक मुद्दों और तकनीकी समाचारों में उनकी विशेष रुचि और विशेषज्ञता है। गौरव झा का उद्देश्य सदैव सच्चाई और निष्पक्षता के साथ पाठकों को सूचित करना है। पत्रकारिता के प्रति उनकी निष्ठा और जुनून उन्हें एक सम्मानित और विश्वसनीय पत्रकार बनाता है।

Articles: 26