शिकोहाबाद: फैंसी ड्रेस में गौरी व श्रीराम गीत में काव्या जादौन रही अब्बल

-श्रीराम गीत, कविता एवं रामायण के पात्रों पर फैंसी ड्रेस प्रतियोगिता संपन्न

शिकोहाबाद। साहित्य, संगीत एवं कला को समर्पित संस्था शब्दम् द्वारा श्रीराम पर गीत कविता एवं रामायण के पात्रों पर फैंसी ड्रेस प्रतियोगिता का आयोजन संस्कृति भवन सभागार में किया गया। प्रतियोगिता में पीएस ग्लोबल एकेडमी, विशुद्ध इंटरनेशनल एकेडमी, ज्ञानदीप सीनियर सैकेंड्री स्कूल, यंग स्कालर्स एकेडमी एवं राजकान्वेट इण्टर कॉलेज के कुल पांच विद्यालयों के चार-चार विद्यार्थियों ने प्रतिभाग किया।

प्रतियोगिता दो चरण में कराई गई। जिसमें पहले चरण में श्रीराम पर गीत, कविता प्रतियोगिता रखी गई। जिसमें काव्या जादोंन प्रथम, अनुज्ञा राज कान्वेंट इण्टर कॉलेज द्वितीय तथा वैष्णवी गुप्ता विशुद्ध इंटरनेशनल ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। द्वितीय चरण में रामायण के पात्रों पर फैंसी ड्रेस प्रतियोगिता कराई गई। जिसमें प्रथम स्थान कुमारी गौरी विशुद्ध इंटरनेशल एकेडमी, द्वितीय स्थान अनन्या ज्ञानदीप सीनि सेके. स्कूल तथा तृतीय स्थान श्रवणी अग्रवाल ज्ञानदीप सीनि सेसे स्कूल ने प्राप्त किया।

शब्दम् अध्यक्ष किरण बजाज ने मुम्बई से भेजे अपने संदेश में कहा कि भगवान श्रीराम के जीवन में बहुत सारे संघर्ष आए, किंतु प्रभु राम ने कभी भी अपना शारीरिक और मानसिक संतुलन नहीं खोया। महर्षि परशुराम ने राजा जनक की स्वयंवर सभा में श्रीराम को कितना सुनाया, फिर भी उन्होंने उनकी सारी बात बड़ी विनम्रता से सुनी और अपने धैर्य को नहीं खोया।

प्रभुराम से हमें विवेक, न्याय, मानिसक संतुलन और बड़ों व गुरूजनों के प्रति आदर देखने और सीखने को मिलता है। निर्णायक मण्ड़ल में शब्दम् सलाहकार मण्ड़ल के सदस्य मंजर उलवासै एवं डॉ. महेश अलोक रहे। जिन्होंने विद्यार्थियों को पूरी पारदर्शिता के अंक दिए व उनका उत्साह वर्धन भी किया।

Dinesh
Dinesh

दीनेश वशिष्ठ एक अनुभवी और समर्पित पत्रकार हैं, जो पत्रकारिता के क्षेत्र में अपनी गहन समझ और निष्पक्ष रिपोर्टिंग के लिए प्रसिद्ध हैं। उन्होंने पत्रकारिता में कई वर्षों का अनुभव अर्जित किया है। दीनेश की विशेषता उनकी गहरी शोध क्षमता और सत्य को उजागर करने की प्रतिबद्धता है। उन्होंने कई महत्वपूर्ण घटनाओं को कवर किया है और उनके रिपोर्ट्स ने समाज पर सकारात्मक प्रभाव डाला है।

Articles: 707