फिरोजाबाद: बेटों ने अपने मामा के साथ मिल कर मारी थी मां को गोली

ताऊ के खेत को अपने नाम कराने के लिए की गई घटना

फिरोजाबाद। खैरगढ पुलिस टीम ने 28 मई को महिला को गोली लगने की घटना का खुलासा कर दिया है। पुलिस ने दो आरोपियों को मय तमंचा के गिरफ्तार कर लिया है। पूछताछ में पकड़े गये बेटों ने मां को गोली मारना कबूल कर लिया है। जबकि एक आरोपी अभी फरार है।

एसपी ग्रामीण कुमार रणविजय सिंह ने घटना की जानकारी देते हुए बताया कि 28 मई को एक महिला की गोली मार कर हत्या कर दी गई थी। जिसके खुलासे के लिए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने थाना पुलिस को सख्त निर्देश दिये थे। गोली लगने वाली घटना की जांच के दौरान सीसीटीवी कैमरों व सीडीआर रिपोर्ट से बृहस्पतिवार को पुलिस ने खुलासा कर दिया। महिला की हत्या के मामले में पुलिस ने उसके दो बेटों को गिरफ्तार कर लिया और उनके कब्जे से हत्या मे प्रयुक्त तमंचा भी बरामद कर लिया है। एक आरोपी फरार है।

उन्होंने बताया कि खेत नाम कराने को लेकर महिला के दोनों बेटों ने सुनियोजित तरीके से अपने मामा के संग मिलकर माँ को अवैध तमंचे से गोली मार कर हत्या कर दी। जिसमें उन्होंने अपनी बहन (ताऊ की लड़की) के पति व दो बेटों के विरूद्ध मुकदमा दर्ज कराया था। जांच में मुकदमा झूठा पाया गया। पुलिस के ठोस साक्ष्य संकलन व गहन विवेचना से पति व दो बेटों की पायी गयी गलत नामजदगी। जिससे निर्दोष लोगों को जेल जाने से बचा लिया।

पुलिस ने आरोपी जितेन्द्र व सोमेश को मुखबिर की सूचना पर बनीपुरा बार्डर से गिरफ्तार कर लिया। उनके कब्जे से घटना में प्रयुक्त किया तंमचा व दो कारतूस बरामद किये हैं। गिरफ्तार करने वाली टीम में प्रभारी निरीक्षक ज्ञानेंद्र सिंह सोलंकी, दिनेश कुमार, नीतेश कुमार, बोबी सागवान, सुनील कुमार,अनुज कुमार आदि शामिल रहे।

 

Dinesh
Dinesh

दीनेश वशिष्ठ एक अनुभवी और समर्पित पत्रकार हैं, जो पत्रकारिता के क्षेत्र में अपनी गहन समझ और निष्पक्ष रिपोर्टिंग के लिए प्रसिद्ध हैं। उन्होंने पत्रकारिता में कई वर्षों का अनुभव अर्जित किया है। दीनेश की विशेषता उनकी गहरी शोध क्षमता और सत्य को उजागर करने की प्रतिबद्धता है। उन्होंने कई महत्वपूर्ण घटनाओं को कवर किया है और उनके रिपोर्ट्स ने समाज पर सकारात्मक प्रभाव डाला है।

Articles: 707