फिरोजाबाद: कलैक्ट्रेट सभागार में मेधावी हुए सम्मानित, अधिकारियों ने बढ़ाया हौसला

फिरोजाबाद। शनिवार को कलैक्ट्रेट सभागार में जनप्रतिनिधियों की मौजूदगी में मेधावियों को सम्मानित किया गया। प्रदेश की मेरिट में टाॅप सिक्स लेकर टेन तक रहने वो छात्रों को सम्मानित किया गया। साथ ही जिला टाॅप करने वालों को भी आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहित किया।

शनिवार को प्रातः 11 बजे कलैक्ट्रेट सभागार मे लखनऊ में आयोजित कार्यक्रम का लाइव प्रसारण दिखाया गया। लखनऊ में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यूपी एवं सीबीएसई बोर्ड के प्रदेश में टाॅप पांच पर रहने वाले छात्रों को सम्मानित किया गया। वहीं फिरोजाबाद के कलैक्ट्रेट सभागार में जिले के टाॅप टेन छात्र-छात्राओं के साथ यूपी की मेरिट में सातवें स्थान पर रहीं अंजली को सम्मानित किया। इन्हें पुरस्कार राशि के चैक के साथ में प्रशस्त्रि पत्र देकर सम्मानित किया गया। एडीएम विशू राजा ने परीक्षार्थियों का हौंसला बढ़ाते हुए कहा कि लक्ष्य तय कर मेहनत एवं लगन से उसे प्राप्त करें।

भाजपा जिलाध्यक्ष उदय प्रताप सिंह, महानगर अध्यक्ष राकेश शंखवार ने छात्र-छात्राओं एवं शिक्षा के क्षेत्र में सरकार द्वारा किये जा रहे कार्य गिनाए। इस दौरान डीआईओएस निशा आस्थाना, बीएसए आशीष कुमार पांडे, पंकज भारद्वाज, प्रमोद यादव, संजीव यादव, अशोक अनुरागी, उमेश चंद्र यादव, नरेश बाबू सहित टाॅपर्स काॅलेज के प्रधानाचार्य आदि मौजूद रहे।

यह छात्र हुए सम्मानित

हाईस्कूल में जिला टाॅप टेन में रहने वाले छात्र अतुल यादव, तनिष्ष्का कर्दम, प्रतीक्षा, मंजीत सिंह, विकास, आकांक्षा, शिवम, अंजली यादव, अतुल प्रताप, वर्तिका जादौन, शिवम यादव को सम्मानित किया गया। वहीं इंटरमीडिएट यूपी बोर्ड में सातवीं रैंक पर रहने वाली अंजली गुप्ता सहित जिला टाॅप टेन में शामिल रौनक यादव, शुभम बघेल, जितेंद्र प्रताप सिंह, वैष्णवी क्षेत्रीय काॅलेज, वैष्णवी, मीनू, वैष्णवी पीआरटी काॅलेज, प्रबल प्रताप सिंह, अवनीश, दीप्ती, आदित्य चैहान आदि मौजूद रहे।

Ravi
Ravi

रवि एक प्रतिभाशाली लेखक हैं जो हिंदी साहित्य के क्षेत्र में अपनी अनूठी शैली और गहन विचारधारा के लिए जाने जाते हैं। उनकी लेखनी में जीवन के विविध पहलुओं का गहन विश्लेषण और सरल भाषा में जटिल भावनाओं की अभिव्यक्ति होती है। रवि के लेखन का प्रमुख उद्देश्य समाज में सकारात्मक परिवर्तन लाना और पाठकों को आत्मविश्लेषण के लिए प्रेरित करना है। वे विभिन्न विधाओं में लिखते हैं,। रवि की लेखनी में मानवीय संवेदनाएँ, सामाजिक मुद्दे और सांस्कृतिक विविधता का अद्वितीय समावेश होता है।

Articles: 2244