Skip to content

शिकोहाबाद: प्रीनियल ग्रंथी कार्यशाला में छात्र-छात्राओं ने किया प्रतिभाग

शिकोहाबाद। एसआरके एकेडमी नया बांस खैरगढ़ में एक कार्यशाला का आयोजन किया गया। जिसमें बच्चों को आंखों पर पट्टी बांध कर पढ़ना और चेहरे आदि की पहचान करना, रंगों, अंकों और आकृतिक की पहचान, अखबार एवं किताबें पढ़ना सिखाया गया। जिसमें बच्चों ने रुचि पूर्वक भाग लिया।

प्रशिक्षक संजय यादव ने बच्चों को आंखों पर काली पट्टी बांध कर पढ़ने का प्रशिक्षण दिया। इस दौरान कई बच्चों ने काफी प्रयास किया, लेकिन पहली दफा में वह कुछ भी नहीं पढ़ सके। लेकिन कई बार प्रयास करने और प्रशिक्षक द्वारा तकनीकी जानकारी दी, उसके बाद बच्चों ने आंखों पर काली पट्टी बांध कर किताब और अखबार को पढ़ कर सुनाया। उन्होंने बताया कि इस क्रिया से स्मरण शक्ति तेज होती है। एकाग्रता एवं आत्मविश्वास बढ़ता है। पढ़ने व सीखने की क्षमता तेज होती है। बच्चे भावानात्मक रूप से संतुलित एवं स्थिर बनते हैं।

बच्चे की छठी ज्ञानइंद्री जागृत एवं विकसित होती है। आभासीय क्षमताओं का तीव्र गति से विकास होता है। बच्चे बंद आंखों से भी देखने में सक्षम हो जाते हैं। इस अवसर पर मुख्य अतिथि डॉ. रजनी यादव, डॉ. पीएस राना, अरुण कुमार यादव ने बच्चों को सम्मानित किया। विद्यालय के प्रधानाचार्य मंजेश यादव ने सभी का स्वागत किया। जिन बच्चों ने कार्यशाला में भाग लिया उनमें आकाश, अमन, प्रिंस, दीप्ती, मानवी सहित अन्य छात्र-छात्राएं मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *