Skip to content

फिरोजाबाद: आरएसएस कार्यालय पर मनाई गई नारद जयंती

-पत्रकारों ने पत्रकारिता के अस्तित्व को लेकर व्यक्त किए विचार

फिरोजाबाद। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के तत्वावधान में नारद जयंती के अवसर पर पत्रकार विचार गोष्ठी संपन्न हुई। सच्ची पत्रकारिता के मायने एवं आयाम पर विचार व्यक्त किए।

कार्यक्रम शुभारंभ महर्षि नारद के चित्र पर माल्यार्पण किया। संघ पदाधिकारियों ने संगोष्ठी में आए पत्रकारों का पीत पट्टिका पहनाकर सम्मान किया। मुख्य वक्ता विभाग कुटुंब प्रबोधन प्रमुख मुकेश गुप्ता ने कहा कि देवर्षि नारद आदिकाल के पत्रकार है। वह समाज कल्याण के लिए समाचारों के आदान प्रदान का कार्य करते थे। वह सभी पत्रकार बंधुओं के प्रेरणा स्त्रोत हैं। कंस को देवकी की संतानों को मारने की प्रेरणा भी उन्होंने समाज कल्याण के लिए दी, ताकि उसके पापों का घड़ा भर सके। आधुनिकता के इस दौर में पत्रकारिता निडरता का कार्य है। पत्रकार जान को जोखिम में डाल कर समाज को आईना दिखाने का कार्य करते हैं। पत्रकारिता का उद्देश्य समाज का उत्थान है। पत्रकारिता को चैथे स्तंभ के रूप में देखा जाता है।

विभाग बौद्धिक प्रमुख अमर सिंह ने कहा कि पत्रकारिता मानवता और संवेदनशीलता से होनी चाहिए, जो समाज में सकारात्मक धारा का प्रवाह करे। नकारात्मक तथ्यों को आवश्यकता के अनुरूप ही समाज में प्रस्तुत करना चाहिए। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के महानगर सह संचालक प्रदीप गुप्ता ने आभार व्यक्त किया।

संचालन महानगर सहकार्यवाह अभिषेक ने किया। सह विभाग प्रचार प्रमुख सौरभ शर्मा, महानगर प्रचार प्रमुख ललित मोहन सक्सेना, नगर प्रचार प्रमुख बृजेश, राकेश वर्मा, राजकुमार एवं कपिल सहित अन्य स्वयंसेवक उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *