फिरोजाबाद: डीएम से मिले ग्लास सिडिंकेट के पदाधिकारी, गतिरोध दूर कराने की मांग

-कई दिन से केरोसिन की किल्लत के कारण कांच चूड़ी इकाईयों में उत्पादन प्रक्रिया प्रभावित होने से दिनों दिन बढ़ रहा औद्योगिक संकट

फिरोजाबाद। केरोसिन की कमी के कारण प्रभावित हो रहे कांच उत्पादन को सुचारू कराने की मांग को लेकर द ग्लास सिंडिकेट के पदाधिकारी शुक्रवार को जिलाधिकारी से मिले। ग्लास सिंडिकेट ने जिलाधिकारी से कैरोसिन की कमी के चलते उत्पन्न गतिरोध को समाप्त कराने के लिये ठोस कदम उठाये जाने की मांग की है।

शहर मे गत दस मई से अचानक सफेद केरोसिन की किल्लत उत्पन्न हो गई। केरोसिन की किल्लत की वजह से शहर के अधिकांश चूड़ी कारखानों में उत्पादन प्रक्रिया पर ब्रेेक लग चुके हैं। दिनों दिन बढ़ रहे औद्योगिक संकट से उबरने के लिये शुक्रवार को द ग्लास सिडिकेट का एक प्रतिनिधि मंडल सिंडिकेट चैयरमेन हनुमान प्रसाद गर्ग के नेतृत्व में जिलाधिकारी रवि रंजन से मिला। प्रतिनिधि मंडल ने जिलाधिकारी से केरोसिन की किल्लत को दूर कराने व उत्पादन प्रक्रिया को पटरी पर लाने के लिये आवश्यक कार्रवाई की मांग की। ग्लास सिडिंकेट के साथ कुछ केरोसिन डीलर भी डीएम से मिले। केरोसिन की उपलब्धता के संबंध अपना पक्ष रखा।

वहीं डीएम ने मिलावटी तेल के संबंध में कांच चूड़ी जुड़ाई श्रमिकों के मन में उत्पन्न भ्रम से निजात दिलाने के लिये जन जागरूकता अभियान चलाए जाने का सुझाव दिया। केरोसिन की उपलब्धता के लिये आवश्यक कदम उठाने का आश्वासन दिया है। प्रतिनिधि मंडल में द इंडस्ट्रीरियल कॉपरेटिव सोसायटी अध्यक्ष बिन्नी मित्तल, प्रमोद कुमार और मोहनलाल आदि मौजूद रहे।

- Advertisement -
- Advertisement -spot_img

Related News

- Advertisement -