फिरोजाबाद: सावित्रीबाई फुले की जयंती पर महिलाओं और बालिकाओं को किया सम्मानित

फिरोजाबाद। विकास भवन के कृषि सभागार में सावित्रीबाई फुले की जयंती धूमधाम से मनाई गई। वक्ताओं ने सावित्रीबाई फुलेे जीवन पर प्रकाश डाला।

कार्यक्रम का शुभारंभ अतिथियों द्वारा देश की प्रथम शिक्षिका सावित्रीबाई फुले के चित्र पर दीप प्रज्वलित व माल्यार्पण कर किया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि एम.पी. सिंह ने कहा माता सावित्रीबाई का कहना था कि स्वाभिमान से जीने के लिए पढ़ाई करो, पाठशाला ही इंसानों का सच्चा गहना है। विशिष्ट अतिथि ममता शाक्य और डॉक्टर दिनेश गुर्जर ने संयुक्त रूप से कहा कि महिलाओं को ना देवी मानने की जरूरत है और ना पूजने की, बल्कि स्त्री का सम्मान करना और बराबरी का अधिकार देना आवश्यक है।

प्राजंलि कुशवाह प्रज्ञान ने कहा की माता सावित्रीबाई फुले ने देश के महिलाओं से आवाहन किया कि कब तक तुम गुलामी की बेड़ियों में जकड़ी रहोगी, उठो और अपने अधिकारों के लिए संघर्ष करो। कार्यक्रम में विभिन्न कार्य क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाली 25 महिलाओं और 35 बालिकाओं को सम्मानित किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता मिथिलेश ग्राम प्रधान व संचालन प्राजंलि कुशवाहा ने किया। सभी आंगुतक अतिथियों का आभार प्रकट प्रेम प्रकाश कुशवाहा जिला अध्यक्ष राज्य कर्मचारी महासंघ ने किया।

इस दौरान धर्मेंद्र कृष्णन, रामनरेश, राजीव यादव, दिनेश चंद, रमेश चंद्र शाक्य, राजू सिंह कुशवाहा, गुरचरण गौतम, बृजेश यादव, श्रीराम, देवी सिंह आचार्य, सत्येंद्र, गीतांजलि, अवनीश, डॉ प्रीति यादव, विमलेश, नीतू, सुनीता शाक्य, अनिता कुशवाहा, खुशबू, आरती, स्नेहलता आदि मौजूद रही।

- Advertisement -
- Advertisement -spot_img

Related News

- Advertisement -