फिरोजाबाद: पेंशन पाने को समाज कल्याण विभाग के चक्कर लगा रहे बुजुर्ग

फिरोजाबाद। सरकार द्वारा वृद्वा पेंशन के रूप में 60 वर्ष के ऊपर के लोगों को बुढ़ापें के सहारे के रूप में प्रतिमाह सरकार द्वारा एक हजार रूपए दिये जाते है। पेेंशनधारी बुजुर्ग काफी लंबे समय से पेंशन प्राप्त कर रहे थे, लेकिन विभाग द्वारा विगत एक वर्ष से विभिन्न तरह की कागजी कार्यवाही के फेर में कार्यालय के चक्कर लगा रहे है। कई बार कागज जमा करने के बाद भी कोई सुनवाई नहीं हो रही है। कभी उन्हें बैंक से केवाईसी, आधार में संशोधन, मोबाइन नं. आधार में लिंक न होने से संबंधित समस्या एवं कभी विभाग की कमी के चलते चक्कर काटने को बेवश है। कुछ बुजुर्ग ऐसे भी है, जिनकी कागजी कार्यवाही पूरी होने के बाद भी पेंशन पाने के लिए भटक रहे है।

इस गलनभरी सर्दी में बुधवार को समाज कल्याण विभाग कार्यालय पर पहुंचे बुजुर्गो का कहना था कि कार्यालय के चक्कर लगा-लगा कर थक चुकें है। लेकिन अधिकारी-कर्मचारी पेंशन से संबंधित संतोष जनक जबाब नहीं दे रहे है। हमारी पेंशन खातें में भी नहीं आ रही है। कभी हमें बैक खाता चैक करने के लिए बोल दिया जाता है, तो कभी यह कहकर टरका दिया जाता है कि ऊपर से पैसा नहीं आ रहा है। हम इसमें कुछ नहीं कर सकते है। गांव भदेसरा विकास खंड अरांव निवासी बुजुर्ग महिला गंगाश्री ने आरोप लगाते हुए बताया कि उनके ग्राम प्रधान ने पेंशन बहाल कराने के नाम पैसे भी लें लिये है। लेकिन उसके बाद भी खाते में पेंशन नहीं आई है। कोई अधिकारी भी सुनने को तैयार नहीं है।

इस संबंध में जिला समाज कल्याण अधिकारी सूर्य कुमार मिश्रा से लगभग पांच बजे फोन पर बातचीत की, तो उन्होंने बैठक की व्यस्त होने की बात कहकर फोन करने की बात कहीं।

- Advertisement -
- Advertisement -spot_img

Related News

- Advertisement -