फिरोजाबाद: प्रसव के बाद डाक्टरों ने बच्चे को किया मृत घोषित, चार घंटे बाद लौटी सांसें

-सीएमओ ने प्राइवेट अस्पताल को किया सील

फिरोजाबाद। सुहागनगरी के प्राइवेट अस्पताल में एक गर्भवती महिला ने बेटे को जन्म दिया। जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पिता मृत बच्चे के शरीर को लेकर अस्पताल के बाहर रोता बिलखता रहा। चार घंटे बाद पिता को पता चला कि बच्चे की सांसें चल रही हैं। जब इसकी जानकारी सीएमओ को हुई तो बच्चे को सरकारी अस्पताल के एसएनसीयू में भर्ती कराया है। जहां उसका इलाज किया जा रहा है।

थाना नारखी क्षेत्र के गांव मुईनुद्दीनपुर निवासी ज्ञान सिंह अपनी पत्नी विनीता को प्रसव पीड़ा होने पर शनिवार रात दो बजे फिरोजाबाद के सैलई मंडी चैराहा स्थित न्यू लाइफ हॉस्पीटल में लेकर पहुंचा। जहां उसने पत्नी को भर्ती करा दिया। रविवार रात महिला ने एक बच्चे को जन्म दिया। बच्चे के जन्म होने के बाद अस्पताल के डाक्टरों ने बच्चे को मृत घोषित कर दिया। मृत बच्चे के शव को लेकर परिजन अस्पताल गेट पर ही विलाप करने लगे। परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल था। नवजात को कपड़े में लिपटाए पिता ज्ञान सिंह अस्पताल के बाहर ही रोता रहा।

करीब चार घंटे बाद पिता को पता चला कि बच्चे की सांसें चल रही हैं। इस पर परिजनों ने हंगामा कर दिया। जानकारी होते ही सीएमओ डा. रामबदनराम स्टेनो विशाल तिवारी के साथ और इंस्पेक्टर थाना रामगढ़ प्रदीप कुमार मौके पर पहुंच गए। उन्होंने लापरवाही के लिए अस्पताल को सील कराने के साथ ही बच्चे को जिला अस्पताल के एसएनसीयू में भर्ती कराया। जहां डाक्टरों को उसकी हर समय निगरानी करने के निर्देश दिए।

इस दौरान सीएमओ और इंस्पेक्टर अस्पताल में ही बैठे रहे। बच्चे को जिंदा देख परिजनों की खुशी का ठिकाना नहीं रहा। पिता ने बताया कि उनकी एक तीन साल की बेटी सोम्या है।

- Advertisement -
- Advertisement -spot_img

Related News

- Advertisement -