शिकोहाबाद: स्वामी विवेकानंद की जयंती पर कार्यक्रमों की रही धूम

-एवीबीपी ने स्वामी विवेकानंद की जयंती पर निकाली शोभायात्रा
-एके कॉलेज में आयोजित 108 सूर्य नमस्कार कार्यक्रम में जुटी भीड़

शिकोहाबाद। स्वामी विवेकानंद की जयंती के अवसर पर नगर में अनेक कार्यक्रम आयोजित किये गये। पतंजलि परिवार ने जहां 108 सूर्य नमस्कार कार्यक्रम आयोजित कराया, वहीं एवीबीपी द्वारा पाली इंटर कॉलेज से विवेकानंद की शोभायात्रा निकाली। इसमें विवेकानंद के स्वरूप युवक आकर्षण का केंद्र रहा। विद्यालय के छात्र-छात्राएं भारत माता का उदघाष करते हुए चल रहे थे।

कायर्क्रम का शुभारंभ एसपी ग्रामीण कुमार रणविजय सिंह ने छात्र-छात्राओं को संबोधित करते हुए और शोभायात्रा को हरी झंडी दिखा कर किया। शोभायात्रा अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के प्रांतीय पदाधिकारी आरबी पांडे के निर्देशन में निकाली गई। शोभायात्रा पाली इंटर कॉलेज से प्रारंभ होकर दोनों बाजारों में होती हुई कॉलेज परिसर में आकर संपन्न हुई। शोभायात्रा में डॉ. रामकैलाश यादव, पूर्व विधायक ओमप्रकाश वर्मा, पालिकाध्यक्ष प्रतिनिध राजीव गुप्ता, सतीश यादव,शिवम दीक्षित, मयंक तिवारी, पाली इंटर कॉलेज के प्रधानाचार्य रवि मिश्रा, डॉ. राघवेंद्र यादव, अजब सिंह यादव सहित बड़ी संख्या में एवीबीपी के पदाधिकारी, सदस्य और छात्र-छात्राएं मौजूद रहीं।

वहीं एके कॉलेज में पतंजलि परिवार की तरफ से सुबह सात बजे वैदिक यज्ञ का आयोजन किया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि गुरुकल के प्राचार्य स्वदेश महाराज रहे। सुबह आठ से साढ़े दस बजे तक 108 सूर्य नमस्कार कार्यक्रम आयोजित किया। इस दौरान बड़ी संख्या में छात्र-छात्राओं के अलावा जनता और आदर्श कृष्ण महाविद्यालय परिवार के लोग शामिल हुए। प्राचार्य डॉ. मोकम सिंह ने कार्यक्रम का शुभारंभ किया। इस अवसर पर एसपी ग्रामीण के अलावा सीओ प्रवीन और एसएचओ अनिल कुमार के अलावा बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे।

सूर्य नमस्कार में संत जनु बाबा, डिवाइन इंटर नेशनल, ज्ञानदीप, सर्वोदय स्थली, रॉयल कृष्णा ग्रुप, राज कॉन्वेंट स्कूल और डीआर इंटर कॉलेज सहित कई स्कूलों के बच्चों ने प्रतिभाग किया। मंचासीन अतिथियों में डॉ. रामकैलाश यादव, डॉ. रजनी यादव,स्वामी स्वदेश महाराज, रश्मि गुप्ता, रामब्रेश यादव, सरला यादव, अभय योगा चार्य, मनीष चैधरी, सयुंकत महाप्रबंधक राजेश कुमार, आशीष, शिवराज आर्य व शशि प्रभा यादव मौजूद रहीं। संचालन पंडित नवीन शास्त्री ने किया। स्वामी स्वदेश महाराज ने कहा कि भाषा, भाव ओर भूमि से जुड़कर भारत माता की जय बनाए।

- Advertisement -
- Advertisement -spot_img

Related News

- Advertisement -