Skip to content

फिरोजाबाद: चूड़ी जुड़ाई मजदूर संघ ने सहायक श्रमायुक्त को सौंपा ज्ञापन

-श्रमिक नेता बोले मिलावटी तेल से चार वर्षो में 300 मजदूर झुलसे, 16 की हो चुकी है मौत

फिरोजाबाद। चूड़ी जुड़ाई करने वाले मजदूर मिट्टी के तेल के नाम पर बेचे जा रहे ज्वलनशील पदार्थ से लगातार झुलस रहे हैं। कइयों की मौत हो चुकी है। गुरुवार को चूड़ी जुड़ाई मजदूर संघ के पदाधिकारियों ने अपनी मांगों को लेकर सहायक श्रमायुक्त को ज्ञापन सौंपा है। जिसमें मिलावटी तेल पर रोक लगाए जाने की मांग की है।

चूड़ी जुड़ाई श्रमिकों का एक प्रतिनिधि मंडल सहायक श्रमायुक्त से मिला। प्रतिनिधि मंडल ने सहायक श्रमायुक्त को एक छह सूत्रीय ज्ञापन दिया है। ज्ञापन में सेवायोजकों पर चूड़ी जुडाई के लिए कांच श्रमिकों को केरोसिन नहीं दिए जाने का आरोप लगाया है। श्रमिक नेता रामदास मानव के नेतृत्व में दिए गए ज्ञापन में श्रमिक नेताओं ने कहा कि फिरोजाबाद के कांच चूड़ी कारखानेदारों ने अचानक सफेद केरोसिन देना बंद कर दिया है। इस कारण शहर में चूड़ी जुड़ाई का काम प्रभावित है। इसके अलावा कुछ कारखानेदार सफेद केरोसिन की जगह जुड़ाई श्रमिकों को अत्यधिक ज्वलनशील एमटीओ दिया जा रहा है।

जिससे हादसे हो रहे हैं। जुड़ाई श्रमिकों ने अपने छह सूत्री ज्ञापन में कार्यस्थल पर हादसा में जख्मी होने वाले श्रमिकों को दस लाख रुपये मुआवजा दिलाने, 100 तोड़ों की जुड़ाई पर 9000 रुपये मानदेय दिलाने की मांग की है। 15 जून तक लंबित मांगे पूरी नहीं होने पर कामबंद हड़ताल की चेतावनी दी है। ज्ञापन सौंपने वालों में हाकिम सिंह निमौरिया, मुकेश कुमार, राजकुमार और नरेश शंखवार, शाहिद कुरैशी आदि मौजूद रहे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *